बिलासपुर

अमित जोगी ने नगरीय निकायों के चुनाव के लिये पार्टी की ओर से जारी शपथ पत्र में कहा गया है कि छजकां प्रदेश में शराब की जगह प्रत्येक शहर के मोछल्लों में दूध उपलब्ध कराएगी ।

: बिलासपुर ।छत्तीसगढ़ राज्य बनने के बाद प्रथम मुख्यमंत्री बने अजित जोगी की सरकार ने प्रदेश में शराब का ठेका नीलामी से किये जाने के पुराने नियम को बदल कर लाटरी सिस्टम से शराब दुकान देने की परिपाटी डाली थी । लाटरी के लिए प्रत्येक आवेदन की कीमत 5 हजार रुपये रखी गई जो वापसी योग्य नही थी । एक शराब ठेकेदार बोरो में भरकर हजारों आवदेन जमा करता था और उन आवेदन पत्रों से ही प्रत्येक ठेकेदार से लाखों रुपये राजस्व के रूप में प्राप्त होता था प्रदेश प्रदेश के बाहर के ठेकेदारों द्वारा आबकारी विभाग में डाले गए आवेदन से सरकार को करोड़ो रुपये की अतिरिक्त राजस्व मिल रही थी । आज उसी प्रथम मुख्यमंत्री के पुत्र और छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व विधायक अमित जोगी ने नगरीय निकायों के चुनाव के लिये पार्टी की ओर से जारी शपथ पत्र में कहा गया है कि छजकां प्रदेश में शराब की जगह प्रत्येक शहर के मोछल्लों में दूध उपलब्ध कराएगी ।

नगरीय निकाय चुनाव के लिए अमित जोगी ने पार्टी का रुख स्पष्ट किया है और घोषणा पत्र जारी किया है।

जेसीसीजे आगामी नगरीय निकाय चुनाव में मैदान में उतरेगी,यह जानकारी देते हुए जेसीसीजे के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा कि आगामी नगरीय निकाय चुनाव के लिए हमने अपनी पार्टी को चुनावी मैदान में उतारने का निर्णय लिया है। प्रदेश के इतिहास में ऐसा पहली बार होगा जब बैलेट पर न सिर्फ भाजपा-कांग्रेस का नाम होगा बल्कि हल चलाता हुआ किसान का भी लोगो दिखाई देगा। उन्होंने कहा कि हमने शपथपत्र में आमजनों की राय इंटरनेट के माध्यम से ली है।

हमारे शपथपत्र में मुख्य बिंदु रहे है –

पूर्ण शराब बंदी, सभी नगरीय निकाय में देशी – विदेशी शराब बन्द होगी। इसकी जगह हम डेयरी खोलेंगे।

हर वार्ड में यूनिफार्म पहनी महिला कमांडो की नियुक्ति हम करेंगें  सभी को घर का पट्टा दिया जाएगा ।

स्वक्ष जल की व्यवस्था ।

हर वार्ड में रात्रिकालीन गश्त के लिए वाचमैन होंगें ।

हर घर के लोगों के स्वास्थ्य की जांच अब उनके घर पर ही कि जाएगी। कोलंबिया में चल रहे मॉडल को यहां लागू किया जाएगा। आयुष्मान भारत के तहत केंद्र सरकार द्वारा लागू नियम जिसके तहत राशी जो प्रदेश को दी गई है जिसे भूपेश सरकार ने ये कहकर लागू नहीं किया गया कि यहां हम यूनिवर्सल हेल्थ लाएंगे। हम इसे हर वार्ड में लागू करेंगें ।

सर्व सुविधायुक्त व्यायाम शाला और डे केयर सेंटर भी खोला जाएगा ।

छत्तीसगढ़ से जुड़े हर त्यौहार, उत्सव,परम्परा मनाने सभी वार्डो में लाख रुपये की राशी दी जाएगी ।

बीपीएल परिवारों के सभी कर ( टैक्स ) हम माफ कर देंगें ।

साइन बोर्ड पर छत्तीसगढ़ी भाषा में आपको हर चीज लिखी मिलेगी।

Related Articles

Back to top button