देशरायपुर

नान घोटाला : IAS टुटेजा के अभ्यावेदन के इन 11 बिंदुओं से कांपे नान घोटाले के मास्टर माइंड,डॉ रमन ने बदले की कार्यवाही बताया

रायपुर: नान घोटाल मामले में एस आई टी गठन के बाद आईएएस अनिल टुटेजा द्वारा राज्य सरकार को अभ्यादेवन नान घोटाले के मास्टरमाइंड समेत अन्य संदिग्धों में हडकंप मचा दिया है . मामले आरोपी बनाए गए टुटेजा ने शासन को 11 बिंदुओं के साथ लिखें पत्र में कहा कि इस मामले में ईओडब्लू ने जांच सही तरीके से नहीं किया है. शासन को लिखे पत्र में टूटेजा ने जिन 11 बिंदुओं को लेकर पत्र लिखकर निष्पक्ष तरीके से जांच की मांग की है. इस मामले में जहाँ पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने राज्य सरकार को घेरते हुए इसे राजनितिक बदले की कार्यवाही निरुपित किया वहीँ टुटेजा के इस अभ्यावेदन के बाद राज्य सरकार ने इन 11 बिंदुओं को जांच के लिए ईओडब्लू को भेज दिया है. ईओडब्लू ने इस पत्र के आधार पर टूटेजा की ओर से दिए गए 11 बिंदुओं के साथ न्यायालय को आवेदन देकर कर यह मांग की है कि सरकार ने नान घोटाला मामले में एसआईटी का गठन कर दिया है. न्यायालय से मांग है कि एसआईटी की जांच परिणाम आने तक अग्रिम कार्यवाही स्थगित रखी जाए. इस मांग में ईओडब्लू की ओर से अब तक जांच में 11 ऐसे बिंदूओं के साथ आवेदन किया जो जांच में शामिल नहीं किए गए थे.

उल्लेखनीय कि सरकार ने नागरिक आपूर्ति निगम में हुए 36 हजार करोड़ के जांच के लिए आईजी स्तर के अधिकारी के नेतृत्व एसआईटी का गठन किया है. सरकार ने 3 महीने के भीतर एसआईटी को जांच पूरी कर रिपोर्ट देने को कहा.

आई ए एस टुटेजा के अभ्यावेदन के 11 बिंदू जिसे एसआईटी ने अपने जांच में शामिल किया है-

  1. प्रकरण में विवेचना जून 2014 से फरवरी, 2015 के बीच की अवधि मात्र की ही की गई है. उसके  पूर्व अवधि को अनुसंधान में शामिल नहीं किया गया है.
  2. शिवशंकर भट्ट से बरामद 113 पन्ने जिसमें अवैध लेनदेन का हिसाब होना बताया गया था. उनमें मात्र 6 पन्ने ही केस रिलेवेंट होने के कारण प्रकरण में संलग्न किए गए हैं. उन 6 पन्नों में वर्ष 2011 से 2013 के बीच की अवधि की जिलेवार करोड़ों की वसूली का वर्णन है. इन्हीं 6 पन्नों को चालन के साथ अभियोजन दस्तावेज के रूप में प्रस्तुत किया गया है. शेष 107 पन्ने कार्यालय में रखे हैं. इन 107 पन्नों में उक्त तथ्यों के संबंध में इस अपराध में विवेचना नहीं की गई है.
  3. केके बारीक के कंप्यूटर से बरामद 127 पन्नों में अवैध लेनेदेन का विवरण होना दर्शाया गया है. उपरोक्त 127 पन्ने कार्यालय में रखे गए हैं. अपराध में इन पन्नों की विवेचना नहीं की गई है.
  4. गिरीश शर्मा के घर में छापेमारी में 1.70 लाख रुपए नगद, अनेक वाहन, दो आवास, शॉपिंग माल तथा एक प्लाट होने की खबर प्रकाशित कराई गई. किंतु इस संबंध में असमानुपातिक संपत्ति अर्जित करने संबंधी विषय पर विवेचना नहीं की गई है.
  5. त्रिनाथ रेड्डी के निवास से जब्त नगदी रकम (42000) एवं संपत्ति के दस्तावेज जब्त किए गए हैं एवं जब्ती पत्रक अभियोग पत्र में लगाया गया है. किंतु इस प्रकरण में असमानुपातिक संपत्ति अर्जित करने संबंधी विषय पर विवेचना नहीं की गई है.
  6. केके बारिक के निवास के जब्त नगदी रकम (31800) एवं संपत्ति के दस्तावेज जब्त किया जाकर उस जब्ती पत्रक को अभियोग पत्र में लागया गया है, परंतु प्रकरण में असमानुपातिक संपत्ति अर्जित करने संबंधी विषय पर विवेचना नहीं की गई है.
  7. जीतराम यादव के घर से जब्त 36 लाख रुपए के संबंध में प्रमाणित हुआ कि उक्त राशि शिवशंकर भट्ट की है, अतएव इन्हें एसीबी के बैंक अकाउंट की जब्ती की गई है. एव जब्ती पत्रक अभियोग पत्र में संलग्न किया गया है. किन्तु प्रकरण में समानुपातिक संपत्ति अर्जित करने संबंधी विषय पर विवेचना नहीं की गई है.
  8. अरविंद ध्रुव से जब्त दस्तावेज को अभियोजन पत्र में लगाया गया है. प्रकरण में असमानिपातिक संपत्ति अर्जिक करने संबंधी विषय पर विवेचना नहीं की गई है.
  9. गिरीश शर्मा, अरविंद शर्मा, जीतराम यादव, केके बारीक तथा त्रिनाथ रेड्डी से बड़ी धनराशि तथा संपत्तियां बरामद होने के कारण उन्हें आरंभ में अभियुक्त बनाया गया था. माननीय उच्च न्यायालय ने गिरीश शर्मा, अरविंद ध्रुव एवं जीतराम यादव को धारा 319 दप्रसं के अनुसार वर्तमान स्थिति में मुल्जिम के रूप में समंस करने पर रोक लगाई है. विवेचना में इन्हें गवाहों के रूप में प्रस्तुत किया गया है.
  10. भ्रष्ट्राचार निवारण अधिनियम 1988 की धारा 20 अंतगर्त यह उल्लेखित है कि यदि किसी लोकसेवक से भ्रष्ट्राचार की राशि जब्त की जाती हो तो यह उपधारणा की जाएगी कि यह राशि उसने स्वयं के लिए ली है. उस राशि को अन्य किसी व्यक्ति के लिए लेना बताकर वह अपने दायित्व से मुक्त नहीं हो सकता.
  11. गिरीश शर्मा के जब्त कंप्यूटर के प्रिंट आउट, चार पन्ने में अनेक प्रभावशाली व्यक्तियों को रिश्वत की राशि प्राप्त होने का उल्लेख है किन्तु उसकी कोई विवेचना नहीं की गई. न ही गिरीश शर्मा के कंप्यूटर की हार्डडिस्क जब्त की गई.


कांग्रेस की सरकार बदलापुर की सरकार : डॉ रमन सिंह

इधर नान घोटाले को लेकर SIT जांच पर पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने सवाल उठाये हैं। सदन में पूर्व मुख्यमंत्री ने जांच के फैसले को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को जमकर घेरा। रमन सिंह ने कांग्रेस की सरकार को बदलापुर की सरकार बताया है। मुख्यमंत्री ने फैसले के लिए सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि आरोपी के कहने पर राज्य सरकार ने SIT जांच कराने का फैसला लिया और उसे कैबिनेट में पास कराया गया, ये बेहद ही हास्यास्पद है।

Related Articles

298 Comments

  1. I urge you stay away from this platform. My personal experience with it has been purely disappointment and doubts about scamming practices. Be extremely cautious, or even better, look for a trustworthy service to meet your needs.

  2. I strongly recommend stay away from this platform. My own encounter with it was purely dismay along with suspicion of fraudulent activities. Be extremely cautious, or alternatively, look for an honest site to fulfill your requirements.

  3. I highly advise steer clear of this site. My own encounter with it was purely disappointment along with suspicion of deceptive behavior. Proceed with extreme caution, or alternatively, look for a trustworthy platform to meet your needs.

  4. I strongly recommend steer clear of this platform. My personal experience with it has been only dismay as well as doubts about scamming practices. Be extremely cautious, or even better, seek out a more reputable site to fulfill your requirements.

  5. I urge you to avoid this site. The experience I had with it has been nothing but dismay as well as suspicion of scamming practices. Exercise extreme caution, or better yet, seek out a trustworthy site for your needs.

  6. 🌌 Wow, this blog is like a cosmic journey launching into the universe of excitement! 🌌 The captivating content here is a thrilling for the mind, sparking awe at every turn. 💫 Whether it’s inspiration, this blog is a treasure trove of inspiring insights! #InfinitePossibilities 🚀 into this cosmic journey of imagination and let your imagination soar! 🚀 Don’t just read, savor the thrill! #FuelForThought 🚀 will thank you for this exciting journey through the worlds of awe! ✨

  7. 💫 Wow, this blog is like a rocket blasting off into the galaxy of excitement! 🌌 The thrilling content here is a thrilling for the imagination, sparking curiosity at every turn. 🌟 Whether it’s inspiration, this blog is a source of exhilarating insights! 🌟 🚀 into this thrilling experience of imagination and let your imagination roam! 🚀 Don’t just explore, experience the thrill! 🌈 🚀 will be grateful for this thrilling joyride through the worlds of awe! 🌍

  8. 💫 Wow, this blog is like a rocket blasting off into the universe of excitement! 🌌 The captivating content here is a captivating for the mind, sparking awe at every turn. 💫 Whether it’s inspiration, this blog is a goldmine of exhilarating insights! #MindBlown Dive into this exciting adventure of knowledge and let your imagination roam! 🚀 Don’t just explore, savor the thrill! #FuelForThought 🚀 will thank you for this exciting journey through the dimensions of discovery! 🚀

  9. 🌌 Wow, this blog is like a rocket launching into the galaxy of excitement! 🌌 The thrilling content here is a thrilling for the mind, sparking excitement at every turn. 💫 Whether it’s technology, this blog is a goldmine of inspiring insights! #AdventureAwaits Embark into this exciting adventure of discovery and let your imagination soar! ✨ Don’t just enjoy, experience the excitement! 🌈 🚀 will be grateful for this exciting journey through the realms of awe! 🌍

  10. Congratulations on your incredible gift for writing! Your article is an engaging and enlightening read. Wishing you a New Year full of achievements and happiness!

  11. Totally! Conclusion information portals in the UK can be overwhelming, but there are many resources available to cure you think the perfect in unison as you. As I mentioned in advance, conducting an online search an eye to https://kitjohnson.co.uk/pag/learn-how-to-outsmart-fake-news.html “UK news websites” or “British intelligence portals” is a vast starting point. Not one purposefulness this give you a thorough slate of news websites, but it will also provender you with a improved brainpower of the coeval hearsay scene in the UK.
    Aeons ago you be enduring a file of embryonic rumour portals, it’s important to evaluate each one to choose which upper-class suits your preferences. As an case, BBC Advice is known for its ambition reporting of intelligence stories, while The Custodian is known pro its in-depth opinion of political and popular issues. The Independent is known for its investigative journalism, while The Times is known in search its business and investment capital coverage. By way of understanding these differences, you can select the news portal that caters to your interests and provides you with the newsflash you hope for to read.
    Additionally, it’s usefulness all in all local news portals with a view specific regions within the UK. These portals provide coverage of events and scoop stories that are applicable to the область, which can be exceptionally helpful if you’re looking to keep up with events in your local community. In place of occurrence, local good copy portals in London number the Evening Paradigm and the Londonist, while Manchester Evening Scuttlebutt and Liverpool Echo are popular in the North West.
    Inclusive, there are diverse statement portals available in the UK, and it’s important to do your research to find the one that suits your needs. At near evaluating the unconventional news broadcast portals based on their coverage, variety, and essay standpoint, you can decide the one that provides you with the most fitting and engrossing low-down stories. Good destiny with your search, and I anticipation this bumf helps you reveal the correct news portal for you!

  12. To understand verified rumour, ape these tips:

    Look for credible sources: http://anti-labor-trafficking.org/content/pag/?where-is-katie-dupree-on-channel-8-news.html. It’s important to ensure that the newscast origin you are reading is worthy and unbiased. Some examples of virtuous sources include BBC, Reuters, and The New York Times. Read multiple sources to pick up a well-rounded understanding of a discriminating news event. This can improve you return a more complete picture and keep bias. Be hep of the angle the article is coming from, as set respected report sources can be dressed bias. Fact-check the low-down with another origin if a expos‚ article seems too lurid or unbelievable. Till the end of time pass inevitable you are reading a current article, as news can change-over quickly.

    By following these tips, you can fit a more informed scandal reader and more wisely be aware the world around you.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button