देशरायपुर

6 लाख के दो ईनामी नक्सली गिरफ्तार

धमतरी : लोकसभा चुनाव के मद्देनजर चलाए जा रहे सघन नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत धमतरी पुलिस ने सोमवार को दो ईनामी नक्सलियों को गिरफ्तार किया। इनमें से एक पर पांच लाख रुपये और एक पर एक लाख रुपये का ईनाम घोषित था। पुलिस ने नक्सलियों से हथियार भी जब्त किए हैं। दोनों नक्सलियों पर कई जगहों पर बम इन्प्लांट करने, आगजनी और फायरिंग के मामले हैं।

धमतरी के पुलिस अधीक्षक बालाजी राव ने इस संबंध में एक प्रेस वार्ता के दौरान जानकारी देते हुए बताया कि रायपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक आनंद छाबड़ा के निर्देश पर लगातार जिले में नक्सल उन्मूलन अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में डीआरजी की सर्चिंग पार्टी खल्लारी की ओर निकली थी। खल्लारी और आमझर के बीच जंगल में पुलिस पार्टी की नजर लावारिश पड़े पानी के दो काले जर्किन पर पड़ी। माओवादियों के यहां होने का अंदेशा हुआ और इसके बाद क्षेत्र की घेराबंदी की गई। पुलिस पार्टी आगे बढ़ रही थी, तभी पगडंडी में ताजा खोदे गए गड्ढे में कुछ वायर दबे हुए नजर आए।

नक्सली यहां पुलिस पार्टी को निशाना बनाने के लिए लैण्ड माइंस बिछा रहे थे। इसी बीच सर्चिंग पार्टी को वहां दो लोग नजर आए, जो पार्टी को देखकर वहां से भाग रहे थे। उन्होंने दौड़ा कर पकड़ा गया। दोनों के पास दो भरमार बंदूकें मिलीं। इसके बाद उनसे पूछताछ की गई तो दोनों ने नक्सल घटनाओं में संलिप्त होने की बात कबूल ली। गिरफ्तार नक्सलियों में से एक का नाम अजीत मोडियम है जिसपर खल्लारी के जंगल में पुलिस पार्टी पर गोली चलाने और बम इंप्लांट के कई मामले हैं।

वह सीतानदी क्षेत्र में नक्सलियों के एरिया कमांडर के रूप में काम कर रहा था। उस पर राज्य सरकार ने पांच लाख रुपये का ईनाम घोषित किया है। इसके अलावा पकड़े गए दूसरे नक्सली का नाम रामसू कुंजाम बताया गया। इस पर भी एक लाख रुपये का ईनाम राज्य सरकार ने घोषित किया है। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर चलाए जा रहे सघन नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत धमतरी पुलिस ने सोमवार को दो ईनामी नक्सलियों को गिरफ्तार किया। इनमें से एक पर पांच लाख स्र्पये और एक पर एक लाख स्र्पये का ईनाम घोषित था। पुलिस ने नक्सलियों से हथियार भी जब्त किए हैं। दोनों नक्सलियों पर कई जगहों पर बम इन्प्लांट करने, आगजनी और फायरिंग के मामले हैं।

धमतरी के पुलिस अधीक्षक बालाजी राव ने इस संबंध में एक प्रेस वार्ता के दौरान जानकारी देते हुए बताया कि रायपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक आनंद छाबड़ा के निर्देश पर लगातार जिले में नक्सल उन्मूलन अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में डीआरजी की सर्चिंग पार्टी खल्लारी की ओर निकली थी। खल्लारी और आमझर के बीच जंगल में पुलिस पार्टी की नजर लावारिश पड़े पानी के दो काले जर्किन पर पड़ी। माओवादियों के यहां होने का अंदेशा हुआ और इसके बाद क्षेत्र की घेराबंदी की गई। पुलिस पार्टी आगे बढ़ रही थी, तभी पगडंडी में ताजा खोदे गए गड्ढे में कुछ वायर दबे हुए नजर आए। नक्सली यहां पुलिस पार्टी को निशाना बनाने के लिए लैण्ड माइंस बिछा रहे थे। इसी बीच सर्चिंग पार्टी को वहां दो लोग नजर आए, जो पार्टी को देखकर वहां से भाग रहे थे। उन्होंने दौड़ा कर पकड़ा गया। दोनों के पास दो भरमार बंदूकें मिलीं।

इसके बाद उनसे पूछताछ की गई तो दोनों ने नक्सल घटनाओं में संलिप्त होने की बात कबूल ली। गिरफ्तार नक्सलियों में से एक का नाम अजीत मोडियम है जिसपर खल्लारी के जंगल में पुलिस पार्टी पर गोली चलाने और बम इंप्लांट के कई मामले हैं। वह सीतानदी क्षेत्र में नक्सलियों के एरिया कमांडर के रूप में काम कर रहा था। उस पर राज्य सरकार ने पांच लाख स्र्पये का ईनाम घोषित किया है। इसके अलावा पकड़े गए दूसरे नक्सली का नाम रामसू कुंजाम बताया गया। इस पर भी एक लाख स्र्पये का ईनाम राज्य सरकार ने घोषित किया है।

Related Articles

320 Comments

  1. Искал доступный и качественный дегидратор, и ‘Все соки’ предложили именно то, что мне нужно. Их дегидраторы по отличной цене помогают мне в подготовке здоровых перекусов. https://h-100.ru/collection/degidratory – Дегидратор цена от ‘Все соки’ оказалась идеальной для моих потребностей.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button