कवर्धादुर्ग

कबीरधाम जिले में जीरो होम डिलीवरी पर विशेष फोकस करें- कलेक्टर

 

पिछले अप्रैल माह की तुलना में इस वर्ष संस्थागत प्रसव और गर्भवती माताओं की पंजीयन में हुआ इजाफा

कलेक्टर ने स्वास्थ्य और महिला एवं बाल विकास विभाग के कामकाज की समीक्षा की

कवर्धा,  कलेक्टर श्री अवनीश कुमार शरण ने आज जिला कार्यालय के सभा कक्ष में महिला एवं बाल विकास विभाग और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों और मैदानी अमलों की संयुक्त बैठक लेकर दोनों विभाग में संचालित कार्यक्रमों और उनके कामकाज की गहनता से समीक्षा की। कलेक्टर ने शिशु एवं मातृत्व दोनों को सुरक्षित जीवन देने के लिए महिला एवं बाल विकास और स्वास्थ्य विभाग के साझे प्रयास से चलाए जा रहे मिशन जीरो होम डिलीवरी पर विशेष फोकस करने और जिले में बेहतर परिणाम लाने के निर्देश दिए है। उन्होने जिले में होम डिलीवरी के एक भी प्रकरण ना इसके लिए लगातार प्रयास जरूरी है।

आंगनबाड़ी और बहुद्देशीय स्वाथ्य कार्यकर्ता और मितानीन कार्यकर्ता लगातार अपने-अपने ग्राम पंचायतों की ग्रामीण महिलाओं के संपर्क में रहे और नए गर्भवती महिलाओं का पंजीयन कर उन्हे बेहतर स्वाथ्य सुविधाएं मुहैया कराए और नियमित स्वास्थ्य परीक्षण कर आवश्यक सुझाव भी दें। बैठक बताया गया कि जिले में मिशन जीरो होम डिलवरी के बेहतर परिणाम लाने के लिए दोनों विभाग के अमले लगतार प्रयास कर रहे, जिनके परिणाम मूलकर अप्रैल माह में गर्भवती माताओं का पंजीयन एवं संस्थागत प्रसव में पिछले वर्ष की तुलना में 80 प्रकरण ज्यादा इजाफा हुआ है। बैठक में जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी श्री कुंदन कुमार, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ गजभिए उपस्थित थे।

कलेक्टर श्री अवनीश कुमार शरण ने स्वास्थ्य विभाग में संचालित विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए ग्रीष्म ऋतु के बाद बरसात के मौसम में होने वाले जल-जनित रोगों तथा संक्रामक बीमारियों के रोकथाम के लिए विशेष दिशा-निर्देश दिए। उन्होने मलेरिया के रोकथाम के लिए आगामी 13 सितम्बर तक पूरे में डीटीटी छिड़काव करने के सख्त निर्देश दिए। उन्होने पूरे जिले में विशेष अभियान के तहत तीस दिवसीय नेत्र जांच शिविर आयोजित करने के निर्देश दिए। जिले के बैगा बाहुल पंडरिया विकासखण्ड के कुकदूर में संचालित सामुदायिक स्वाथ्य केन्द्र में एक सप्ताह के भीतर एक्स-रे मशीन की सुविधाएं देने के लिए निर्देश दिए। उन्होने टीवी एवं कुष्ट उन्नमुलन कार्यकमों की समीक्षा करते हुए जांच परीक्षण के कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने समीक्षा बैठक में विभिन्न कार्यक्रमों के प्रगति की जानकारी के साथ उपस्थित नहीं होने पर जिले के सभी खण्ड चिकित्सा अधिकारियों को शो-कॉज नोटिस जारी करने के निर्देश और तीन दिनों की भीतर जवाब प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिए।

कलेक्टर ने आदर्श प्रसव कक्ष की समीक्षा करते हुए आदिवासी-बैगा बाहूल बोड़ला विकासखण्ड के ग्राम रोल के स्वास्थ्य विभाग के सेक्टर सुपरवाईजर और पंडरिया के तेलियापानी सेक्टर सुपरवाईज को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए है। कलेक्टर ने टीकाकरण अभियान की समीक्षा करते हुए टीकाकरण कार्यों में प्रगति लाने के निर्देश दिए। उन्होने गैर संचारी रोगों की समीक्षा करते हुए जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र और प्राथमिक स्वास्थ केन्द्रों में विशेष शिविर लगाने और मुनादी करके शिविर की सूचना संबंधित ग्राम पंचायतों के ग्रामीणों को सूचनार्थ करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने महिला एंव बाल विकास विभाग के विभिन्न कार्यक्रमों की समीक्षा की। कलेक्टर ने जिले के सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों में

आसपास बरसात के दिनों में शुरू होने वाले पौधा रोपण के लिए स्थल चिन्हांकित करने के निर्देश दिए। उन्होने बताया कि जिले के सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों के आसपास बड़े पैमाने पर मुनगा और अन्य फलदार पौधों का रोपण किय जाएगा। जिला पंचायत सीईओ श्री कुंदन कुमार ने महिला एंव बाल विकास विभाग के सुपरवाईजरों को नियमित रूप से आंगनबाड़ी केन्द्रों का निरीक्षण करने और निर्धारित समय में आंगनबाड़ी केन्द्र संचालित करने के निर्देश दिए। बैठक में स्वास्थ्य विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी सुश्री निलू घृतलहरे समस्त खण्ड चिकित्सा अधिकारी, और महिला एंव बाल विकास विभाग के समस्त सीडीपीओ और सुपरवाईजर उपस्थित थे।

Related Articles

274 Comments

  1. Congratulations on your incredible gift for writing! Your article is an engaging and enlightening read. Wishing you a New Year full of achievements and happiness!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button