कवर्धादुर्ग

कवर्धा जनपद पंचायत सीईओ को तलब, पालीगुढ़ा के सचिव को किया गया निलंबित”

कवर्धा जनपद पंचायत सीईओ को तलब, पालीगुढ़ा के सचिव को किया गया निलंबित”

कवर्धा, छत्तीसगढ़ शासन के महत्वकांक्षी योजना गौठान निर्माण कार्य में गंभीरता पूर्वक काम नहीं करने के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत के प्रति नराजगी जताई है और ग्राम पंचायत पालीगुढ़ा के गौठान निर्माण में घोर लापरवाही बरतने एवं शासकीय कार्य में उदासीनता करने के लिए श्री दिलीप ठाकुर, सचिव ग्राम पंचायत पालीगुढ़ा को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया।
श्री कुन्दन कुमार, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत कबीरधाम ने उक्त दोनो कार्यवाही गौठान विकास कार्य का निरीक्षण के दौरान की। साथ ही ग्राम पंचायत बदराडीह, छाटा-झा, तिवारी नवागांव, पालीगुढ़ा, कोयलारी एवं मथानीकला मे कराये जा रहे गौठान निर्माण कार्य का भी निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान ग्राम बदराडीह में गौठान निर्माण कार्य की धीमी प्रगति पर तकनिकी सहायक श्री राज नारायण कवंर, एवं सचिव व ग्राम रोजगार सहायक को फटकार लगाते हुए निर्देशित किया गया कि आगामी तीन दिवस के भीतर शासन के निर्देशानुसार सभी कार्य तत्काल गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराये। कार्यो में लापरवाही के लिए कार्य से जुड़े तकनीकि सहायको एवं ग्राम पंचायत सविचो को कारण बताओं नोटिस जारी किया गया।
गौठान विकास कार्य पालीगुढ़ा का कार्य संतोषजनक नहीं पाये जाने पर श्री मोहित चन्द्रवंशी ग्राम रोजगार सहायक को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए चेतावनी दी गई की सात दिवस के भीतर स्वंय उपस्थित होकर

समस्त निर्माण कार्य कराये। श्री कुन्दन कुमार, ने सरपंच को सुझाव दिया की पशु शेड ऐसा बनाया जाए कि उसमे पानी न गिरे तथा गौठान स्थल पर जहां जहां कीचड़ हो रहा है उस जगह का उपचार कर ठीक किया जावे जिससे की मवेशियों को बरसात में किसी भी प्रकार से कोई कठिनाई न हो। निरीक्षण के दौरान कोयलारी एवं मथानीकला के गौठान विकास को भी देखा गया। दोनो स्थलों पर कार्य संतोष जनक नहीं पाये जाने पर श्री देवेन्द्र चन्द्रवंशी, तकनिकी सहायक को कड़ी फटकार लगाते हुए निर्देशित किया गया कि सात दिवस के भीतर सभी जरूरी व्यवस्थाए गुणवत्ता के साथ पूर्ण की जाये। कार्यो में लापरवाही बरतने के लिए श्री देवेन्द्र चन्द्रवंशी को भी कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये गये तथा चेतावनी दी गई की सात दिवस के भीतर यदि गौठान विकास कार्य समय पर नहीं किया गया तो उनके विरूद्ध कड़ीे कार्यवाही की जायेगी। छाटा-झा गौठान विकास कार्य में ग्रामीणो से चर्चा करते हुए उन्हें श्रमदान कर विकास कार्य में आगे आने के लिए प्रेरित किया गया। महिलाओ से चर्चा करते हुए उन्हें गौठान विकास से होने वाले फायदे के बारे में जानकारी दी गई।

ज्ञात हो कि नरूवा, गरूवा, घुरवा एवं बाड़ी योजना के अंतर्गत जिले के बहुत से ग्रामों में गौठान विकास का कार्य कराया जा रहा है, जिसमें पशुधन के लिए पानी टंकी, कोटना, मचान, चबूतरा जैसी सुविधाओं का विस्तार किया जाना है। जिले में गौठान विकास कार्य तेजी से कराया जा रहा है, जिसके परिणाम स्वरूप जमीनी स्तर पर किये जा रहे कार्य की गुणवत्ता को देखने के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत कबीरधाम, लगातार सभी जनपद पंचायतो के गौठानो का सत्त रूप से दौरा कर निरीक्षण कर रहे है एवं लापरवाही बरतने वाले अधिकारियो एवं कर्मचारियो पर कार्यवाही भी की जा रही है। निरीक्षण के दौरान मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत कवर्धा, जिला पंचायत के अधिकारीगण एवं जनपद पंचायत के साथ अन्य विभागीय कर्मचारी भी उपस्थित रहें।

Related Articles

Check Also
Close
Back to top button